सरकारी शिक्षक कैसे बनें | How to Become A Government Teacher Hindi

नमस्कार दोस्तों, दोस्तों, शिक्षक और शिक्षण और अध्यापन कार्य को पूरे दुनिया में सबसे श्रेष्ठ माना गया है और शायद इसीलिए माता-पिताके बाद गुरुजनों को स्थान दिया जाता है।

दोस्तों अगर आपभी एक अच्छा शिक्षक बनना चाहते हैं तो यह Post आपके लिए ही बना है क्योंकि मैं इस वीडियो में आपको पूरा डिटेल से बताऊंगा कि शिक्षक बनने के लिए कितना पढ़ना पड़ता है। 

कौन-कौन से ट्रेनिंग लेना होगा? कौन-कौन सी परीक्षा ओं को पास करना होगा। किस प्रक्रिया से गुजरना होगा? दोस्तों मैं हूं। संजय कुमार और आप सभी स्वागत है Naukrikhabri.com की वेबसाइट पे।

सरकारी शिक्षक कैसे बनें | How to Become A Government Teacher Hindi

सरकारी शिक्षक कैसे बनें | How to Become A Government Teacher Hindi
सरकारी शिक्षक कैसे बनें | How to Become A Government Teacher Hindi

कितने प्रकार के शिक्षक होते है 

दोस्तों जितने भी स्कूल हैं वहमुख्य रूप से 4 तरह के हैं। पहला प्राइमरी, दूसरा मिडिलस्कूल, तीसरा सेकेंडरी स्कूल या फिर के हाईस्कूल और चौथा मेंप्लस टू हाई स्कूल या फिर सीनियर सेकेंडरी हाई स्कूल औरयह चारों तरह के स्कूलों के शिक्षक बनने के लिए जोन्यूनतम शैक्षणिक और प्रशासनिक योग्यता चाहिए वह अलग अलग है। 

 प्राइमरी स्कूल का टीचर कैसे  बने ? 

दोस्तोंलोग सबसे पहले बात करते हैं। प्राइमरी स्कूल के बारे मेंतो प्राइमरी स्कूल का टीचर बनने के लिए जो डिग्री चाहिएवो टेन प्लस टू या फिर इंटरमीडिएट पास चाहिए और साथही साथ टीचर ट्रेनिंग डीपी या फिर डीएलएड डीपी का मतलबहै डिप्लोमा इन प्राइमरी एजुकेशन और डीएलएड का मतलब डिप्लोमा डिप्लोमाइन एलीमेंट्री एजुकेशन।

अगर आपके पास इंटरमीडिएट की डिग्री और यहदोनों डिग्री में से कोई है या फिर इसके ही कोबैलेंस डिग्री कुछ है तो आप प्राइमरी स्कूल का शिक्षक बनसकते हैं, लेकिन इसमें एक और चीज है कि आपको केंद्रसरकार के द्वारा जो सीबीएसई की ओर से परीक्षा ली जातीहै और साथ ही साथ विभिन्न राज्यों की सरकारों की ओरसे टेट परीक्षा ली जाती है।

इसमे किसी में आपको पासहोना होगा। इसके बाद सरकार की ओर से जब वैकेंसी निकलेगीया फिर जितने भी प्राइवेट स्कूल हैं, जिसमें डीएवी डीपीएस याफिर और भी तरह-तरह के विद्यालय हैं तो वहां पर जबवैकेंसी आएगा तो उस नियुक्ति प्रक्रिया में आपको शामिल होना होगाऔर उसमें आपको हो सकता है। परीक्षा होगी और साथ हीसाथ इंटरव्यू भी होता है। 

मिडिल स्कूल का टीचर कैसे  बने ? 

 इसके बाद हम लोग देखते हैंकि जो मिडिल स्कूल के शिक्षक बनना चाहते हैं, उसके लिए शैक्षणिक योग्यता और प्रशिक्षण योग्यता क्या होना चाहिए। 

अगर आप मिडिलस्कूल का शिक्षक बनना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी हैकि आप ग्रेजुएट हूं आपको भाषा के विषयों हिंदी इंग्लिश संस्कृतया फिर मैथमेटिक्स के बाद सोशल साइंस में हिस्ट्री ज्योग्राफी, पॉलिटिकलसाइंस और इकोनॉमी उसी तरह से साइंस में केमिस्ट्री बायोलॉजी याफिर फिजिक्स में आपको ग्रेजुएट हैं और इसके साथ-साथ अगर आपके पास B.Ed की डिग्री है।

कहीं-कहीं ऐसा भी होता है कि प्राइमरी टीचर का जो ट्रेनिंग है। डीएलएड और डीपी वह भी है तो उनको भी मिडिल स्कूल के शिक्षक बनने का अवसर मिलता है और दोस्तों इसके लिए सरकार की ओर से नियुक्ति प्रक्रिया शुरू होती है। वैकेंसी निकलती है, उसमें अगर आप बैठते हैं और यह सारे डिग्री हैं और पास हो जाते हैं तो आप मिडिल स्कूल के शिक्षक बन सकते हैं। 

हाई स्कूल का टीचर कैसे  बने ? 

इसके बादहम लोग चर्चा करते हैं कि हाई स्कूल का टीचर बनने के लिए सेकेंडरी स्कूल का टीचर बनने के लिए कौन-कौन सीडिग्री होने चाहिए और कौन-कौन से परीक्षा से आपको गुजरना होगा।

दोस्तों हाई स्कूल का टीचर बनने के लिए हाई स्कूल में जो जो विषय चलते हैं जिसमें सोशल साइंस में हिस्ट्री,ज्योग्राफी, सिविक्स, इकोनामी, साइंस में अगर देखें तो फिजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी अगर भाषा में देखें तो हिंदी इंग्लिश और संस्कृत और इसके बाद मै थमेटिक्स तो यह सारे सब्जेक्ट में हाई स्कूल में चलते हैं। 

साथ ही साथ शारीरिक शिक्षक का भी पढ़ाई होता है और इसके अलावा संगीत हो गया म्यूजिक तो अगर इन सभी विषयोंके जानकार हैं आप ग्रेजुएट हैं और साथ ही साथ आप अगर बीएड किए हैं, बैचलर इन एजुकेशन की डिग्री है याफिर उसके इनको बैलेंस कोई डिग्री है तो आप हाई स्कूलका टीचर बन सकते हैं।

और इसके लिए सरकारों की ओरसे या फिर विभिन्न संस्थाओं की ओर से वैकेंसी निकलती है, उस वैकेंसी की प्रक्रिया में आपको शामिल होना होगा। फॉर्म अप्लाईकरना होगा। परीक्षा देना होगा। और अगर अब b.a. B.Ed डीपीएस या नवोदय विद्यालय के शिक्षक बनना चाहते हैं तो उसमेंइंटरव्यू भी होता है तो आप अगर इन सारे परीक्षाओं में पासहो जाते हैं। डिग्री रहते हुए तो आप हाई स्कूल का टीचरबन सकते हैं।

सीनियर सेकेंडरी हाई स्कूल का टीचर कैसे  बने ? 

 दोस्तों इसके बाद हम लोग देखते हैं कि प्लसटू हाई स्कूल मतलब सीनियर सेकेंडरी हाई स्कूल का टीचर बनने केलिए शैक्षणिक योग्यता और पर शैक्षणिक योग्यता कितनी चाहिए।

तो बता दें दोस्तों की प्लस टू हाई स्कूल का शिक्षक अगर आप बनना चाहते हैं तो प्लस टू हाई स्कूल में जो जो सब्जेक्ट चलता है, आज इसमें की हिस्ट्री, ज्योग्राफी, पॉलिटिकल, साइंस इसके बाद और साइंस मेंअगर बायोलॉजी हैं, केमिस्ट्री है फिजिक्स फिर मैथमेटिक्स है, इसके अलावा भाषामें संस्कृत इंग्लिश और हिंदी यह सभी विषयों में अगर आपको पीजीकिए हुए हैं। पोस्ट ग्रेजुएट। स्नातकोत्तर की डिग्री है और साथ हीसाथ आपके पास B.Ed की डिग्री है। 

बैचलर ऑफ एजुकेशन की डिग्रीहै तो आप सरकार की ओर से या फिर विभिन्न संस्थाओं की ओर से जो भी विद्यालय संचालित है, उसकी जॉब वैकेंसी आएगी तोउस वैकेंसी के लिए आपको फॉर्म भरना होगा और उनका जो परीक्षाकी जो प्रक्रिया है, उस परीक्षा में बैठना होगा और उस परीक्षामें अगर आप पास हो गए तो आप प्लस टू हाई स्कूलके शिक्षक बन सकते हैं।

और यह जो प्लस टू हाई स्कूलका शिक्षक है। हाई स्कूल का शिक्षक है या फिर मिडिल और प्राइमरी स्कूल के शिक्षक हैं। अगर आप बनना चाहते हैं तो इसकेलिए आपको इंटरमीडिएट से ही एम ले करके चलना होगा कि हमको आगे चलकर के कौन सा शिक्षक बनना है, क्योंकि इंटरमीडिएट के बादही आपको ऑस्ट्रीम सिलेक्ट करना होगा कि अगर आज का टीचर बनना है तो आजा सब्जेक्ट लेकर पड़ेंगे। साइंस का टीचर बनना है तो साइंस का सब्जेक्ट लेकर के पड़ेंगे और अगर भाषा का टीचर बननाहै तो भाषा के विषय लेकर के पढ़ने होंगे। 

अगर मैथ काटीचर बनना है तो मैथ सब्जेक्ट को ले करके पढ़ना होगा और इसके बाद जब इंटरमीडिएट हो जाएगा तो ट्रेनिंग लेना होगा। डीपी याफिर यह डीएलएड तो प्राइमरी टीचर बनेंगे और ग्रेजुएट हो गए हैं और आप भी ऐड कर लिए तो हाई स्कूल का टीचर बनेंगे।

अगर आप बिजी कर लिए गए पोस्ट ग्रेजुएशन हो गया और आपभी ऐड कर लेंगे तो आपको हाई स्कूल का टीचर बन जाएंगे।

दोस्तों इसमें जो एक विशेष बात है कि हाई स्कूल प्लस टूहाई स्कूल का टीचर बनने के लिए आपको किसी तरह से टेट की परीक्षा नहीं पास करनी होगी। 

मतलब केंद्र सरकार के सीबीएसई की ओर से जो सी टेट लिया जाता है या फिर आपके राज्य सरकार की ओर से जो टेट परीक्षा ली जाती है तो वह हाईस्कूल और प्लस टू हाई स्कूल के लिए नहीं होता है। 

सिर्फ प्राइमरी और मिडिल स्कूल के शिक्षक बनने के लिए टेट की परीक्षा देनी होगी।

लेकिन यह हाई स्कूल और प्लस टू हाई स्कूल मेंयह सिस्टम नहीं है। वहां सिर्फ डिग्री चाहिए और जो B.Ed की डिग्री है, विवेचना ऑफ एजुकेशन की डिग्री वह है तो आप शिक्षक बन सकते हैं।

सरकारी शिक्षक वेतन संरचना

ComponentGovt. teacher  Salary Structure (in Rs)
PRTTGTPGT
Pay Scale9,300-34,8009,300-34,8009,300-34,800
Grade Pay4,2004,6004,800
Basic Pay after 7th Pay Commission35,40044,90047,600
HRA3,2403,4004,350
TA1,6001,6001,600
Gross Salary (Basic Pay+HRA+TA)40,24049,90053,550
Net Salary35,000-37,00043,000-46,00048,000-50,000

मेरी अंतिम राय इस Post पे

शिक्षक की नौकरी की बात करें तो हमारे मां-बाप यही चाहते हैं कि उनके बेटे एक सरकारी नौकरी वाले और अपनी जिंदगी में सेटल हो जाए तो सरकारी शिक्षक एक बहुत ही अच्छी जॉब है, जो आपका टाइम भी बचाती है और आपकी मेहनत भी और अच्छी सैलरी भी आपको देती है तो आप चाहो तो सरकारी शिक्षक में एक अच्छा करियर बना सकते हो।

तो दोस्तों अगर हमारे साथ आप इसी तरह से एजुकेशनल या फिर जॉब से रिलेटेड इंफॉर्मेशन को लेना चाहते हैं तो इस के लिए जरूरी है कि आप हमारे इस Naukrikhabri.com की वेबसाइट से जुड़े रहैं। अगर Post अच्छा लगे तो अपने दोस्तों को भी शेयर करें तो दोस्तों इस Post में बस इत ना ही और मिलते हैं अगले Post में जय हिंद वंदे मातरम।

Share on:

Hi, I am Royaldo Sanju a part-time Blogger, Developer, Affiliate Marketer and founder of Naukrikhabri.com. Here, I post about Jobs to help people make money online.

1 thought on “सरकारी शिक्षक कैसे बनें | How to Become A Government Teacher Hindi”

Leave a Comment